SPG COMMANDO Indian special forces जाने इनके बारे में

SPG एसपीजी कमांडो की सिक्यूरिटी एक ऐसी सिक्यूरिटी होती है जो देश के प्रधानमंत्री,के साथ-साथ पूर्व प्रधानमंत्री, समेत उनके परिवार के सदस्यों की सुरक्षा के लिए तैनात की जाती है. इसके अलावा यदि देश के पूर्व प्रधानमंत्री, उनके परिवार के सदस्य का सुरक्षा लेना ना लेना उनके मुताबिक़, भी होती है. यदि आवश्यकता होने पर यह सुरक्षा दी जा सकती है, और हटाई भी जा सकती है. एसपीजी कमांडो में ऐसे जवानो को चुना जता है जो पहले से ही सुरक्षा बल में अनुभवी होते है व जिन्हें जीवन मरण स्तर की विश्वस्तरीय ट्रेनिंग देकर एसपीजी (SPG) में शामिल किया जाता है.

एसपीजी SPG का फुल फॉर्म क्या होता है?

एसपीजी का फुल फॉर्म “Special Protection Group” होता है. और इसको “विशेष सुरक्षा बल” कहते है. यह एक प्रोटेक्शन ग्रुप होता है. इस ग्रुप में विशेष प्रकार के जवानो को चुनकर तैनात किया जाता है.

एसपीजी सुरक्षा किसे दी जाती है?

SPG एसपीजी की सुरक्षा देश के प्रधानमंत्री,पूर्व प्रधानमंत्री, या आवश्यकता होने पर उनके परिवार को भी प्रदान की जाती है . इसके अतिरिक्त यह सुविधा प्रधानमंत्री जी के अलावा आवश्यकता पड़ने पर कुछ महत्वपूर्ण बड़े नेताओं को प्रदान की जाती है. यह कमांडो भारत के प्रधानमंत्री जी की सुरक्षा करने के लिए उनके साथ 24 घंटे तैनात रहती है.

एसपीजी कमांडो का गठन?

भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हुई हत्या के बाद देश में प्रधानमंत्री सहित बड़े दिग्गज नेताओ की सुरक्षा का मुद्दा बहुत बड़ा हो गया था और फिर एक विशेष सुरक्षा बल के गठन की जरुरत हुई. इस प्रकार, एसपीजी (SPG) कमांडो का गठन किया गया इसका गठन 2 जून 1988 में भारत की संसद के अधिनियम द्वारा बनाया गया था. यदि इसके मुख्यालय की बात करें तो इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है. यह केंद्र के सभी सुरक्षा बलों में से एक माना जाता है. जो विशेष नेताओं की सुरक्षा रखें का काम करता है.

एसपीजी (SPG) कमांडो की नियुक्ति कैसे होती है?

एसपीजी कमांडो बनने के लिए सीधे नियुक्तियाँ नहीं की जाती है. यदि आप पहले से ही देशी की सैन्‍य बल सिक्यूरिटी एजेंसी में कार्य कर रहे है और आपका चयन संभव हो सकता है एसपीजी में भर्ती होने वाले जवानो का चयन पुलिस, पैरामिलिट्री फोर्स (BSF, CISF, ITBP,CRPF द्वारा किए जाता है. एसपीजी देश की सभी सुरक्षा बलों में प्रमुख मानी जाती है. कोई भी व्यक्ति एक वर्ष से अधिक समय तक सेवा नहीं दे सकता है.

SPG में आने वाले उम्‍मीदवार पहले से ही किसी स्‍पेशल फोर्स से आते हैं इसलिए उनके पास अनुभव भी होता है. फिर भी चयनित उम्मीदवारों को वर्ल्ड क्लास की ट्रेनिंग दी जाती है. यह वही ट्रेनिंग है जो यूनाइटेड स्टेट सीक्रेट सर्विस एजेंट्स को दी जाती है. इसमें जवानों को फिट, चौकस और टेक्नोलॉजी में परफेक्ट बनाया जाता है।

ट्रेनिंग होने के बाद इन्‍हें तीन महीने के लिए निगरानी पर रखा जाता है। जिसमें एक कुछ परीक्षा भी शामिल है. प्रोबेशन में फेल होने वालों को अगले बैच में एक और मौका दिया जाता है और अगर वे फिर भी इसे क्लियर नहीं कर पाते हैं तो उन्हें मूल यूनिट में वापस कर दिया जाता है। एसपीजी सदस्यों को नियमित रूप से एक ड्यूटी से दूसरी ड्यूटी में घुमाया जाता है।

एसपीजी (SPG) कमांडो वेतन (सैलरी)?

1. Salary (approx. – Rs. 84,236, Rs 239,457
2. Bonus (approx.) –Rs. 153- Rs 16,913
3. Profit Sharing (approx.) – Rs. 2.04 – Rs 121, 361
4. Commission (approx.) – Rs 10.000
5. Total Pay (approx.) – Rs. 84,236 – 244,632
6.
SPG में ऑपरेशन ड्यूटी पर ऑफिसर्स को 27,800 रुपए सालाना और नॉन ऑपरेशनल ड्यूटी 21,225 रुपए का ड्रेस भत्ता अलग से दिया जाता है. यह निर्णय 7वा वेतन आयोग आने के बाद किया गया है जिससे एसपीजी कमांडो को सही प्रकार से सभी सुविधाए मिल सके.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *